By Amar Ujala – दूसरे दिन भी शहर में नहीं हुई सफाई, जगह-जगह लगे कचरे के ढेर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।
70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

गुरुग्राम। नगर निगम के सफाई कर्मचारी दूसरे दिन भी सामूहिक अवकाश पर रहे। इस कारण शहर में कहीं पर भी सफाई नहीं हो पाई। दो दिन से लगातार सफाई नहीं होने के कारण जगह-जगह कचरे के ढेर लग गए। नगरपालिका कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मचारियों ने दूसरे दिन सामूहिक अवकाश के साथ विरोध प्रदर्शन भी किया। कर्मचारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 5 जुलाई तक सरकार कर्मचारियों की मांग को पूरा नहीं करती है तो 6 जुलाई से कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

कर्मचारियों ने हाथों में झाडू लेकर सरकार की वादाखिलाफी, तानाशाही छटनी एवं निजी करण के लिए 25 अप्रैल के समझौते को लागू करने व 16 सूत्री मांगों को मनवाने के लिए नगर निगम पुराना कार्यालय से सामान्य बस अड्डा चौक तक प्रदर्शन किया। कर्मचारियों को संबोधित करते हुए नगर पालिका कर्मचारी संघ प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि सरकार हठधर्मिता छोड़ बातचीत के माध्यम से पालिका कर्मचारियों की मांगों का समाधान करे।
शास्त्री ने कहा कि सरकार ने प्रदेश के सफाई कर्मचारियों को मास्क, सैनिटाइजर, दस्ताने और पीपीई किट आदि सुरक्षा उपकरण उपलब्ध नहीं करवाए हैं। कोरोना महामारी की आड़ में सरकार कर्मचारियों पर आर्थिक एवं नीति गत हमले कर रही है। संघ नेताओं ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार ने 5 जुलाई तक मांगों का समाधान नहीं किया तो 6 जुलाई से शुरू होने वाली तीन दिवसीय हड़ताल को संघ अनिश्चितकालीन हड़ताल में परिवर्तित कर देगा।

बारिश के कारण हुआ जलभराव सोमवार देर शाम हुई बारिश के कारण शहर में जगह-जगह जलभराव हो गया है। बारिश के होने के बाद से गलियों व सड़कों पर पड़ा कचरे से बदबू आने लगी। काफी जगहों पर जलभराव होने से लोगों को पैदल चलने में भारी परेशानी हुई। काफी जगहों पर सीवर ओवरफ्लो की समस्या से लोग परेशान रहे। कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से सीवर सफाई का कार्य भी नहीं हो रहा है। सोहना में भी कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन- सोहना में नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों ने लगातार दूसरे दिन भी मंगलवार को प्रदर्शन करते हुए साफ कहा कि जब तक उनकी लंबे अरसे से अटकी मांगें पूरी नही होगी, वह चुप नही बैठेंगे। इसके बाद भी यदि प्रदेश सरकार ने उनकी मांगों पर विचार नही किया तो पहले तीन दिन की हड़ताल की जाएगी और जरूरत समझे जाने पर इस हड़ताल को अनिश्चितकालीन हड़ताल में बदलने में देरी नही लगेगी। 6सफाई कर्मचारियों के सामूहिक अवकाश पर जाने से शहर में जगह-जगह कूड़े के ढेर नजर आ रहे है तो नालियों की भी सफाई ना होने से ई स्थानों पर पानी नालियों से ओवरफ्लो होकर सड़क पर बह रहा है।

For more details, please visit http://gestyy.com/eqOXem

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.