सीएनजी : साढ़े चार महीने में 12वां विस्फोट

0
0

ख़बर सुनें

गुरुग्राम। सीएनजी (कंप्रेशड नेचुरल गैस) अब 83.60 रुपये प्रति किलो हो गई है। पिछले साढ़े चार महीनों में यह 12वीं बढ़ोतरी है। पहली जनवरी को इसके दाम 61.90 रुपये थे, जो 35 फीसदी तक बढ़कर 83.60 रुपये तक पहुंच गए हैं। अब तक इसमें 21.70 रुपये प्रति किलो का इजाफा हो चुका है। इसका असर पूरे कारोबार जगत पर पड़ा है। उद्योगपति, मध्यमवर्गीय दुकानदार, टैक्सी चालक से लेकर कार सवार तक सभी इस महंगाई से त्रस्त हैं। इन सभी का कहना है कि अगर यही हाल रहा तो पेट्रोल, डीजल और सीएनजी के रेट कुछ दिनों में एक समान हो जाएंगे। इससे सब कुछ और भी महंगा हो जाएगा। लोगों का कहना है कि आने वाले दिनों में इसका असर देखने को मिलेगा। ढुलाई महंगी होने से रोजमर्रा की चीजों के दामों में भी बढ़ोतरी होगी।

विज्ञापन

—-

बॉक्स

अप्रैल में 11.60 रुपये बढ़े थे रेट

सीएनजी में इस वर्ष दो बार सर्वाधिक पांच रुपये प्रति किलो की बढ़ोतरी हुई। पहली बार दो अप्रैल को यह वृद्धि हुई थी, जब 69.90 में मिलने वाली गैस सीधे पांच रुपये महंगी होकर 74.90 रुपये की हो गई थी। पांच दिन बाद ही सात और आठ अप्रैल के बीच क्रमश: 1.60 रुपये और 3.40 रुपये बढ़ाए गए। ये भी पूरे पांच रुपये थे। इस तरह से दस अप्रैल तक दस रुपये बढ़ गए थे। इसके बाद 15 अप्रैल को 1.60 रुपये और बढ़े।
—-

बॉक्स:

सीएनजी मीटर: कब और कितने बढ़े दाम

पहली जनवरी 61.90

16 जनवरी को 63.90

18 फरवरी को 64.90

24 फरवरी को 65.90

10 मार्च को 67.40

24 मार्च को 67.87

26 मार्च को 67.90

30 मार्च को 69.90

02 अप्रैल को 74.90

07 अप्रैल को 76.50

08 अप्रैल को 79.90

15 अप्रैल को 81.50

16 मई को 83.60
——————

लोगों से बात:

मेरी दुकान में पहले सभी डिस्ट्रीब्यूटर दिन में दो बार दवाओं की सप्लाई करते थे। सीएनजी महंगी होने से भाड़ा भी बढ़ा और अब दिन में एक बार ही गाड़ी आती है।

– राजेश गोयल, दवा विक्रेता।

सीएनजी, डीजल, पेट्रोल और पीएनजी सब महंगे होने से भाड़ा बहुत बढ़ा है। इससे धातुओं की कीमतें बढ़ी हैं और माल बनाने की लागत बढ़ रही है। इससे महंगाई और बढ़ेगी।

-जेएन मंगला, अध्यक्ष, जीआईए

लगातार सीएनजी महंगी हो रही है। कुछ दिनों में ये पेट्रोल और डीजल के बराबर हो जाएगी। संभवत: सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए जानबूझ कर ऐसा कर रही है।

-प्रेम सागर, कारोबारी।

इस वर्ष में सीएनजी के दाम 12वीं बार बढ़े हैं। अब तक 21.70 रुपये प्रति किलो बढ़ चुके हैं। ये बढ़ोतरी 35 फीसदी तक पहुंच चुकी हैै। आगे जाने रेट, कहां तक पहुंचेंगे।

– राजेंद्र, पंप मैनेजर श्रीश्याम पेट्रोकेयर।

ओला-उबर ने अपना कमीशन बढ़ा दिया, लेकिन गाड़ी मालिकों को इसका कोई लाभ नहीं हुआ। 500 के भाड़े में 250 रुपये मिलते हैं। इसमें कैसे गुजारा होगा और सीएनजी रोज महंगी हो रही है।

– अंशु, टैक्सी चालक।

—–

रोजाना कारोबार

1-जिले में रोजाना तीन लाख किलो गैस की खपत

2-लगभग 30 पंपों से हो रही सीएनजी की आपूर्ति

3-छोटे 600 तो बड़े पंप 5000 किलो गैस बेच रहे

4-हरियाणा सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन के सर्वाधिक पंप

5-इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड के भी कुछ पंप चल रहे

6-पंप वालों को ढाई रुपये प्रति किलो का कमीशन

7-गुरुग्राम में नोएडा, दिल्ली से भी महंगी है

—–

Credit Source – https://www.amarujala.com/delhi-ncr/gurgaon/in-the-last-four-and-a-half-months-the-price-of-cng-reached-around-rs-62-to-84-gurgaon-news-noi6489424163?utm_source=rssfeed&utm_medium=Referral&utm_campaign=rssfeed

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.